Funny Shayari In Hindi

Funny Shayari In Hindi

 

We are providing Large Collection of Latest funny Shayari. I hope you liked this Funny Shayari collection. Friends, read here New Funny Shayari in Hindi, Comedy Shayari, Best Funny Shayari, Hindi Funny Shayari, Funny Shayari for Friend, Girlfriend, Husband or Wife. Funny Shayari in Hindi for Whatsapp and Facebook. Latest funny shayari collection in Hindi and English Font.

Who does not like to have fun in their life? We always crack jokes.  Funny Shayari  helps in relaxing our mind. And in the long run it also helps us to fight depression. So adding fun in our life is always a wise idea. And when fun comes in the mask of Funny Shayari then there wont be anyone who will dislike it. So today we are sharing shayari that are meant only for fun. Enjoy reading them and keep sharing.

 

“Dil do kisi ek ko, aur vo bhi kisi nek ko, mandir ka prasad nahi jo baat do har ek ho”

 

“Ab to begairate is kadar badh gai hai faraz sher kisi aur ka hota hai naam mera thok deta hai”

 

“Tu ye mat soch ki tu chhod degi toh toot jaunga, kamina hu tere se acchi pataunga”

 

“Muskurana toh har khubsurat ladki ki ek ada hai aur mere bhai jo usse pyaar samje voh sabse bada gadha hai”

 

“Na asaram ka, na rampal ka, na ram rahim ka, waqeel to salman khan ka hi badiya hai”

 

“Mai bhi tere ishq mai aatankvadi ban jau tujhe baho mai le ke bum se uda jau”

 

“Rok do mere janaje ko ab mujh mai jaan aa rahi hai aage se thoda right let toh daro ki dukaan aa rahi hai”

 

“Maine suna tha ki sacche dil se aankh bandh karo toh apne pyaar ki tasvir dikhti hai, maine bhi try kiya mujhe toh nindh aa gai”

 

“Kala na kaho mere mehboob ko, Kala na kaho mere mehboob ko, Khuda toh til bana raha tha syaahi ka pyala lurhak gaya”

 

“Pramoshan hua toh kya hua, pad ka kaisa gurur, aaudha toh uncha mila, salary hike abhi dur”

 

“Manzile se gumrah bhi kar dete hai kuch log har kisi se raste puchna accha nahi hota”

 

 

Funny Shayari In Hindi

 

चिरागों में इतना नूर ना होता, तो तनहा दिल मजबूर ना होता, हम आपसे मिलने जरूर आते, अगर आपका घर इतना दूर ना होता।.

यू ना किसी के दिल से खेलो… जब ? ग्रुप में मेसेजेस ही नही करना है, तो स्मार्ट फ़ोन बेच कर रेडियो ले लो… !!.

ताज महल क्या चीज है… हम इससे भी अच्छी इमारत बनवा देंगे, शाहजहां ने मुमताज़ को मुर्दा दफनाया था, हम तुझे ज़िंदा ही दफना देंगे।.

ये बारिश का मौसम बहुत तड़पाता है, वो बस मुझे ही दिल से चाहता है, लेकिन वो मिलने आए भी तो कैसे…? उसके पास न रेनकोट है और ना छाता है।.

नखरे आपके तौबा-तौबा गजब आपका स्टाईल है, मैसेज तो आप कभी करते नहीं, बस हल्ला मचा रखा है कि हमारे पास भी मोबाईल है।.

एक बेवफा की याद में हम कुछ ख़ास हो गए, पहले हम लोटा थे पर अब गिलास हो गए।.

मुस्कुराना तो हर लड़की की अदा है जो इसे प्यार समझे वो सबसे बड़ा गधा है।.

इश्क का जिसको ख्वाब आ जाता है, समझो उसका वक़्त खराब आ जाता है, महबूब आये या न आये, पर तारे गिनने का हिसाब आ जाता है।.

इस क़दर था खटमलों का चारपाई में हुजूम, वस्ल का दिल से मेरे अरमान रुख़्सत हो गया।.

तारीफ के काबिल हम कहाँ, चर्चा तो आपकी चलती है, सब कुछ तो है आपके पास, बस सींग और पूंछ की कमी खलती है।.

दिल दो किसी एक को, वो भी किसी नेक को, जब तक मिल ना जाए कोई, ट्राई करते रहो हर एक को।.

वो आज भी हमें देख कर मुस्कुराते हैं, वो आज भी हमें देख कर मुस्कुराते हैं, ये तो उनके बच्चे ही कम्बख्त हैं, जो हमें मामा-मामा बुलाते है।.

रहता है इबादत में हमें मौत का खटका, हम याद ख़ुदा करते हैं कर ले न ख़ुदा याद।.

इससे ज्यादा दुश्मनी की इन्तहा क्या होगी ग़ालिब टोयलेट की टंकी में कोई बर्फ डाल गया।.

काश दिलों के भी इलेक्शन होते ! मैं धांधली करके तुम्हे जीत लेता !!.

न जाने कब कोई अपना रुठ जाये न जाने कबकोई अश्क आँखों से छूटजाये कुछ पल हमारे साथभी मुस्कुरा लिया करो ऐ दोस्त न जाने कब तुम्हारे दांत टूटजाये.

आसमान जितना नीला है, सूरजमुखी जितना पिला है, पानी जितना गीला है, आपका स्क्रू उतना ही ढीला है।.

आशिक पागल हो जाते हैं प्यार में, बाकी कसर पूरी हो जाती है इंतज़ार में, मगर ये दिलरुबा नहीं समझती, वो तो गोल गप्पे और पपड़ी खाती फिरती है बाज़ार में ।.

उस की ‪गली‬ से गुजरे तो उसकी ‪रँगोली‬ भी देख आए। ‪‎गजब‬ की बनाती है… हमें तो लगा था बस ‪‎मुँह‬ बनाना आता होगा ।।.

हम भी जान-ए-मन तेरे लिए ताजमहल बनायेंगे, अर्ज़ किया है, हम भी जान-ए-मन तेरे लिए ताजमहल बनायेंगे, एक कप सुबह पिलायेंगे और एक कप शाम को पिलायेंगे।.

जुल्फों में फूलों को सजा के आयी, चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी, किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है, हमने कहा शायद आज नहा के आयी।.

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह, कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे, मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह, कि होश भी आने की इजाज़त मांगे!.

तेरा प्यार भी हजार की नोट जैसा है, डर लगता है कहीं नकली तो नहीं ।.

लड़कियों से प्यार न करना क्योंकि, दिखती हैं हीर की तरह, लगती हैं खीर की तरह, दिल में चुभती हैं तीर की तरह, और छोड़ जाती हैं फकीर की तरह ।.

मोहब्बत के खर्चो की बड़ी लंबी कहानी है, कभी फिल्म दिखानी है तो कभी शोपिंग करानी है, मास्टर रोज कहता है कहाँ है फीस के पैसे? उसे समझाऊं मैं कैसे की मुझे छोरी पटानी है!!.

ऐ खुदा… हिचकियों में कुछ तो फर्क डाला होता… अब कैसे पता करूँ कि कौनसी वाली याद कर रही है..

हमसे मोहब्बत का दिखावा न किया कर, हमे मालुम है तेरे वफा की डिगरी फर्जी है ।.

उस की ‪गली‬ से गुजरे तो उसकी ‪रँगोली‬ भी देख आए। ‪‎गजब‬ की बनाती है… हमें तो लगा था बस ‪‎मुँह‬ बनाना आता होगा ।।.

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह, कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे, मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह, कि होश भी आने की इजाज़त मांगे!.

लड़कियों से प्यार न करना क्योंकि, दिखती हैं हीर की तरह, लगती हैं खीर की तरह, दिल में चुभती हैं तीर की तरह, और छोड़ जाती हैं फकीर की तरह ।.

इस गर्मी का आलम.. बस इतना समझले ग़ालिब कपडे धोते ही सुख जाते हैं और पहनते ही गीले हो जाते हैं!.

तुझे पाने के लिये कुछ भी कर सकता हूँ, तेरे प्यार मे जी तो क्या मर भी सकता हूँ, फिर भी तू नही मिली तो मुझे कोई गम नही, ये तरीका किसी दूसरी पर भी सेट कर सकता हूँ।.

जेलर- सुना है की तुम शायर हो कुछ सुनाओ यार… कैदी- गम ए उल्फत मे जो जिन्दगी कटी हमारी, जिस दिन जमानत हुई जिन्दगी खतम तुम्हारी ।.

आप करें न करें याद हम को हम आप को याद करेंगे मोबाइल के साथ दफनाना नेटवर्क मिलेगा तो कब्र से भी SMS बिंदास करेंगे.

निगाहें आज भी उस शख्स को शिद्दत से तलाश करती हैं, जिसने कहा था… “बस दसवी कर लो, आगे पढ़ाई आसान है ।”.

मुझे इतना भी मत घुमा ऐ ज़िन्दगी, मैं शहर का शायर हूँ, MRF का टायर नहीं!.

है हसरत कि हो ऐलान एक दिन, कि हजरात-ए-इश्क इन्तेकाल कर गए ।.

आँखों से आसुओं की विदाई कर दो, दिल से ग़मों की जुदाई कर दो, गर फिर भी दिल न लगे कही, तो मेरे घर की पुताई कर दो…।.

ताज महल क्या चीज है… हम इससे भी अच्छी इमारत बनवा देंगे, शाहजहां ने मुमताज़ को मुर्दा दफनाया था, हम तुझे ज़िंदा ही दफना देंगे।.

ये बारिश का मौसम बहुत तड़पाता है, वो बस मुझे ही दिल से चाहता है, लेकिन वो मिलने आए भी तो कैसे…? उसके पास न रेनकोट है और ना छाता है।.

चिरागों में इतना नूर ना होता, तो तनहा दिल मजबूर ना होता, हम आपसे मिलने जरूर आते, अगर आपका घर इतना दूर ना होता।.

 

 

 

KEEP FOLLOWING FOR DAILY NEW POSTS

Post A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *